प्रार्थना मानसिक स्वास्थ्य एवं आत्मविश्वास पर किस प्रकार प्रभाव डालती है…

प्रार्थना मानसिक स्वास्थ्य एवं आत्मविश्वास पर किस प्रकार प्रभाव डालती है , इसके पीछे वैज्ञानिक तथ्य यह है कि आईएसएमई प्राथी अपने भावों कि गहराई एमई प्रवेश करके परमात्मा को सर्वसम्मत मानते हुए शरणागत होकर अपनी भावभीव्यक्ति करता है । आमतौर से प्रार्थना सभी करते है और उसमे ईस्वर से कुछ याचना करते हैं । कभी ये प्रार्थना फलिफ़ुथ होती है ।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s